Kanpur Encounter:विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद तीन लोगों को लिया हिरासत में,लखनऊ के दो वकील भी शामिल  

उज्जैन के महाकाल मंदिर से कुख्यात अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद लखनऊ के दो वकीलों को भी उज्जैन से पुलिस हिरासत में लिया गया है। ये दोनों वकील निजी गाड़ी से उज्जैन गए थे। पुलिस उनसे विकास दुबे से कनेक्शन की जांच कर रही है।



कानपुर शूटआउट के मुख्य आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी के मामले में तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। बताया जा रहा है कि यह तीन लोग विकास दुबे के संपर्क में थे। इसमें एक स्थानीय निवासी आनंद तिवारी शामिल है। फिलहाल, तीनों लोगों से उज्जैन पुलिस पूछताछ कर रही है।


सूत्रों का कहना है कि विकास दुबे के उज्जैन पहुंचने में दो वकीलों का हाथ है। कयास लगाए जा रहे हैं कि इन्हीं दोनों वकीलों और आनंद तिवारी को पुलिस ने हिरासत में लिया है। हालांकि, अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।


Also Read:-क्या भ्रष्ट्राचार की बलि चढ़ गयी महिला PCS अधिकारी -आखिर कौन है जिम्मेदार ?????


पुलिस को आशंका है कि कहीं इन्होंने ही तो विकास दुबे की मदद नहीं की क्योंकि उत्तर प्रदेश पुलिस को चकमा देते हुए विकास मध्य प्रदेश कैसे पहुंच गया ये बड़ा सवाल है। पुलिस उसके गुर्गों का सफाया करने में लगी रही और विकास दुबे उज्जैन पहुंच गया। अब सवाल उठ रहा है आखिर वहां तक पहुंचने में विकास की मदद कौन कर रहा था।


कहा तो यह जा रहा था कि उत्तर प्रदेश की सीमा से सटे सभी राज्यों की पुलिस विकास दुबे को लेकर हाई अलर्ट पर थी, बावजूद इसके वह कानपुर से दिल्ली होते हुए हरियाणा के फरीदाबाद शहर जा पहुंचा था। इसके बाद हरियाणा से मध्यप्रदेश तक आ गया। यहां पुलिस की चुस्ती और मुस्तैदी पर सवाल उठना लाजमी भी है। आखिर राज्यों की सीमा और टोल नाकों पर तैनात पुलिसकर्मी और सीसीटीवी कैमरे क्या केवल खानापूर्ति के लिए लगे हुए थे।


Also Read:-PCS महिला अधिकारी Suicide :बीजेपी नेता समेत 5 पर एफआईआर दर्ज